कई हिट फिल्मों में काम कर चुका ये एक्टर आज कर रहा है चौकीदार की नौकरी, अनुराग बोले- ‘कम से कम भीख तो नहीं मांगी’

कुछ ही फिल्मों में काम करने के बाद कई कलाकार दोबारा फिल्मों में नजर नहीं आए। फिल्म इंडस्ट्री में ऐसे कई कलाकार हैं जो एक वक़्त पर शोहरत की बुलंदी पर थे लेकिन आज आर्थिक तंगी का शिकार हैं। ऐसे ही एक कलाकार जो कभी अक्षय कुमार और अमिताभ बच्चन जैसे कलाकारों के साथ काम किया करता था लेकिन आज ऐसे दौर से गुजर रहा है की उसे अपना घर चलने के लिए चौकीदार की नौकरी करनी पड़ रही है, ये कलाकार कोई और नहीं बल्कि सवी सिद्धू हैं।

अक्षय कुमार के साथ काम कर चुके सवी सिद्धू इन दिनों चर्चा में बने हुए हैं। हाल ही में खबर आई कि उन्हें अपना घर चलाने के लिए सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करनी पड़ रही है। सवी ने कई बड़े डायरेक्टर के साथ काम किया। सवी ने फिल्म कंपेनियन से बात करते हुए अपनी दास्तां सुनाई। सवी सिद्धू ने अपने करियर की शुरुआत अनुराग कश्यप के साथ फिल्म ‘पांच’ से की हालांकि यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर रिलीज नहीं हो सकी।

इसके बाद उन्होंने अनुराग की ही फिल्म ‘गुलाल’ और ‘ब्लैक फ्राइडे’ में काम किया। अक्षय कुमार के साथ उन्हें ‘पटियाला हाउस’ में देखा गया। सवी के पास काम की कमी नहीं रही, उन्होंने यशराज बैनर और सुभाष घई की फिल्मों में किरदार निभाए लेकिन फिर उनकी जिंदगी में ऐसा दौर आया जब उन्हें काम मिलना बंद हो गया। अब उन्हें अपने घर का खर्च निकालने के लिए गार्ड की नौकरी करनी पड़ रही है।

उन्होंने बताया, ‘मुंबई में जहां लोगों को काम नहीं मिलता वहीं मुझे कभी काम की कमी नहीं रही। मुझे ही छोड़ना पड़ा सब। मेरी हेल्थ प्रॉब्लम बढ़ने लगी। इस वजह से मैंने फिल्मों से दूरी बना ली। मेरे पास पैसे की कमी होने लगी। मेरी जिंदगी का सबसे मुश्किल दौर तब था जब मेरी पत्नी की मौत हो गई। उसके बाद मेरे माता-पिता की मौत हो गई। फिर मेरे सास-ससुर ने भी दुनिया को अलविदा कह दिया। मेरे घर में 7-8 लोगों के अचानक इस तरह मौत होने से मैं बिल्कुल अकेला रह गया।’ अपनी आप बीती बताते-बताते सवी रो पड़े।

सवी की ये दास्तां जब अनुराग कश्यप ने सुनी तो उन्होंने इस पर प्रतिक्रिया दी। अनुराग कश्यप ने सवी को लेकर ट्वीट किया और कहा, ‘दुनिया में कई ऐसे कलाकार हैं जिनके पास काम नहीं है। मैं सवी का सम्मान करता हूं । मैंने उन्हें तीन बार अपनी फिल्मों में काम दिया है। वह इसका हकदार था। उसने हार नहीं मानी और सम्मान के साथ अपनी जिंदगी जीने का फैसला किया।’

उन्होंने आगे लिखा, ‘नवाजुद्दीन सिद्दीकी भी एक जमाने में वॉचमैन का काम कर चुका है। मैंने भी वेटर का काम किया है। मैं एक ऐसे एक्टर से भी मिला था जो सड़क पर भेलपूरी बेच रहा था। ‘ब्लैक फ्राइडे’ में एक एक्टर था जो आज रिक्शा चलाता है। ‘सलाम बॉम्बे’ का लीड एक्टर भी यही काम करता है।’

‘मैंने हम पांच और खेल-खिलाड़ी जैसी फिल्मों में काम कर चुके एक्टर उदय चंद्रा को गलियों में भटकते हुए देखा है। यह हकीकत है और कोई भी भविष्य में ऐसी जिंदगी जीने को मजबूर हो सकता है। किसी भी कलाकार पर तरस खाकर उसे काम देना उसकी बेइज्जती करने जैसा है। सवी को खुद अपनी मदद करनी होगी।’

‘कोई इतना जरूर कर सकता है कि उन्हें किसी कास्टिंग डायरेक्टर से ऑडिशन के लिए मिलवा दे ताकि उन्हें रोल मिल सके। इसके लिए उन्हें खुद भी डायरेक्टर्स के पास जाना चाहिए। उसे हताश नहीं होना चाहिए। खुद पर गर्व करना चाहिए। वह असल में अभी भी काम कर रहा है। मैं कई लेखकों को जानता हूं जो अक्सर पैसे उधार मांगते रहते हैं। कई ऐसे निर्देशकों को जानता हूं जिन्होंने खाने के लिए भी मुझसे पैसे मांगे हैं।’

अनुराग आगे लिखते हैं, ‘वॉचमैन की नौकरी भी एक जॉब है। छोटे या बड़े काम के तौर पर मैं इसे नहीं देखता। कम से कम वो भीख तो नहीं मांग रहा। सवी सिद्धू जैसी लाखों- करोड़ों कहानियां हैं। अगर आप किसी कलाकार की मदद करना चाहते हैं तो आप उसका काम देखें और उसे इसके लिए पैसे दें। मेरे ट्वीट करने से उसकी मदद नहीं होगी। मैं हमेशा नए टैलेंट की तलाश में रहता हूं।’

अनुराग कश्यप के अलावा राजकुमार राव ने भी सवी सिद्धू को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘आपकी कहानी बहुत प्रोत्साहित करती है। आपकी फिल्मों और काम को हम सबने हमेशा पसंद किया है। मैं आपके लिए जरूर अपने कास्टिंग डायरेक्टर दोस्तों से बात करूंगा। फिल्म कंपेनियन शुक्रिया, जो आपने इनकी कहानी शेयर की।’

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *