किसान प्रोटेस्ट में आई बुजुर्ग दादी के बारे में अपशब्द बोलकर बुरी फंसी कंगना रनौत, भड़के लोग तो हटाया ट्वीट

हमेशा की तरह ही एक बार फिर बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत अपने मुखर बयानों के कारण चर्चा में बनी हुईं हैं। इस बार कंगना रनौत अपने एक ट्वीट को लेकर सुर्खियों में हैं और उन्हें सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया जा रहा है। दरअसल कंगना ने सच्चाई जाने बिना ही केन्द्र सरकार द्वारा पारित नए कृषि कानून के विरोध में चल रहे किसान प्रोटेस्ट से जुड़े एक फेक ट्वीट को रीट्वीट किया था। ट्रोल होने के बाद वह इसको डिलीट कर चुकी हैं। हालांकि लोगों ने इसका स्क्रीनशॉट ले लिया है और जिसके चलते कंगना को लगातार ट्रोल किया जा रहा है।

कंगना ने जिस ट्वीट को रीट्वीट किया था उसमें किसान प्रोटेस्ट में शामिल एक बुजुर्ग किसान दादी को शाहीन बाग की बिलकिस बानो बताया गया था। इसमें लिखा था कि दिहाड़ी के हिसाब से दादी से ये काम करवाया जाता है। कंगना ने इस पर कटाक्ष करते हुए रीट्वीट किया था और लिखा था, “हा हा हा ये वही दादी हैं जिन्हें भारत के सबसे पावरफुल लोगों में शामिल किया था। ये 100 रुपये में अवेलेबल हैं। पाकिस्तान के पत्रकारों ने इंटरनैशनल पीआर को भारत के लिए शर्मनाक तरीके से हायर कर लिया है। हमें अपने ऐसे लोग चाहिए जो हमारे लिए इंटरनैशनली आवाज उठा सकें”।

कंगना का ये ट्वीट आते ही उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जाने लगा। इसके बाद कंगना ने ट्वीट डिलीट कर दिया। लेकिन तब तक लोगों ने इसका स्क्रीनशॉट ले लिया था, इसके बाद भी एक यूजर के पोस्ट पर लिखा, यह @KanganaTeam द्वारा किया दावा गलत है। उसने अपना यह ट्वीट अब डिलीट कर दिया है। यह मत भूलो कि वह अपनी स्थिति का उपयोग कर उन लोगों को बदनाम कर रहीं है जिन्हें  उनके अधिकारों के लिए लड़ने का विशेषाधिकार भी प्राप्त नहीं है। वह बिल्कुल वही है जिसके खिलाफ वह लड़ने का दावा करती है।

एक सोशल मीडिया यूजर ने कंगना के इस ट्वीट को कंगना की शर्मनाक हरकत बताया।

कंगना के इस ट्वीट के बाद उन पर खूब मीम्स बनने शुरू हो गए, सोशल मीडिया पर उन पर बने मीम्स की जैसे बाढ़ ही आ गई।

बिलकिस बानो (82) जिन्हें शाहीन बाग दादी भी कहा जाता है, वह CAA-NRC प्रोटेस्ट का चेहरा बनी थीं। वहीं लाखों किसान केंद्र के नए कृषि बिल का विरोध कर रहे हैं और अब जब इस विरोध प्रदर्शन में बुजुर्ग किसान दादी की तस्वीर सामने आई थी तो कंगना ने दोनों बुजुर्ग महिलाओं को एक ही बताया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published.