दिवंगत एक्टर इंदर कुमार की पत्नी ने करण जौहर और शाहरुख खान को लेकर कह दिया कुछ ऐसा, लगाए बड़े आरोप!

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के आत्मह’त्या करने के बाद फिल्म इंडस्ट्री का काला सच सबके सामने आ रहा है। बॉलीवुड में चल रहे नेपोटिज़्म, वंशवाद और खेमेबाजी जैसे मुद्दे को लेकर काफी विवाद शुरू हो चूका है। सलमान खान, शाहरुख खान, करण जौहर तो कभी किसी और बड़े निर्माता और अभिनेता को लेकर सोशल मीडिया पर नए- नए खुलासे हो रहे हैं, बॉलीवुड की घिनौनी सच्चाई की परतें एक के बाद एक खुलती ही जा रही हैं। कंगना रनौत और सोनू निगम के अलावा फिल्म इंडस्ट्री की कई हस्तियों ने बॉलीवुड में बढ़ती नेपोटिज्म की समस्या के खिलाफ खुलकर आवाज उठाई है। इस बीच अब, 2017 में दिल का दौरा पड़ने से दुनिया छोड़ चुके अभिनेता इंदर कुमार की पत्नी पल्लवी सराफ ने बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर एक नया खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि किस तरह उनके पति इंदर कुमार भी नेपोटिज्म का शिकार हुए थे।

इंदर की पत्नी पल्लवी का कहना है कि करण जौहर और शाहरुख खान ने उनके पति इंदर कुमार को पहले काम का दिलासा दिया और बाद में उनका फोन नंबर तक ब्लॉक कर दिया। हालही में इस घटना की पूरी जानकारी उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक लंबा चौड़ा पोस्ट शेयर करके दी है। पल्लवी ने भी फिल्म इंडस्ट्री में लगातार बढ़ रही नेपोटिज्म की समस्या की पोल खोलते अपनी पोस्ट में लिखा- ‘इन दिनों हर कोई नेपोटिज्म की बात कर रहा है। सुशांत सिंह राजपूत की तरह मेरे पति दिवंगत अभिनेता इंदर कुमार ने भी बिना किसी सपोर्ट के अपने दम पर फिल्म इंडस्ट्री में पहचान बनाई थी। 90 के दशक में वह अपने करियर के शीर्ष पर थे। मुझे याद है कि नि ध न से पहले वे इंडस्ट्री के दो बड़े लोगों के पास काम मांगने गए थे। वह पहले से ही छोटे- मोटे प्रोजेक्ट कर रहे थे लेकिन वह अपनी शुरुआत की तरह बड़ी फिल्में करना चाहते थे। वह करण जौहर के पास गए। मैं भी उनके साथ थी। मेरे सामने यह सब हुआ।’

पल्लवी ने लिखा, उन्होंने हमें दो घंटे इंतजार के बाद उनकी मैनेजर गरिमा ने कहा कि करण व्यस्त हैं। फिर भी हमने इंतजार किया और जब वह बाहर आए तो उन्होंने इंदर से गरिमा के संपर्क में रहने के लिए कहा। उन्होंने इंदर से कहा कि फिलहाल उनके पास इंदर के लिए कोई काम नहीं है। इंदर ने यही किया। अगले 15 दिन तक उनका फोन उठाया गया और कहा गया कि फिलहाल कोई काम नहीं है। इसके बाद इंदर को ब्लॉक कर दिया गया।’

पल्लवी ने अपनी पोस्ट में आगे लिखा कि ऐसा ही व्यवहार इंदर के साथ शाहरुख खान की ओर से भी किया गया। उन्होंने लिखा, ‘शाहरुख ‘जीरो’ के सेट पर इंदर से मिले और कहा कि एक सप्ताह में फोन करेंगे। फिलहाल कोई काम नहीं है। बाद में उन्हें उनकी मैनेजर पूजा के संपर्क में बने रहने के लिए कहा गया। लेकिन उसने भी वही किया, जो गरिमा ने किया था। क्या कोई कल्पना कर सकता है कि इन दो बड़े प्रोडक्शन हाउस के पास कोई काम नहीं होगा? करण जौहर ने कई बार कहा है कि वो स्टार के साथ काम करते हैं। खैर मेरे पति भी स्टार थे। लोग आज भी उनके काम को याद करते हैं।’

पल्लवी ने अपने इस लंबे पोस्ट में एक सवाल भी उठाया है। उन्होंने अपने पोस्ट की अंत में लिखा है कि आखिर इन बड़े लोगों को हुनर की मदद करने में क्या परेशानी है? उन्हें किस बात का डर है? उन्होंने लिखा, ‘हम बस यही कह सकते हैं, ये बुरे इंसान हैं, जो अच्छे होने का दिखावा करते हैं। बॉलीवुड में अपनी जगह बनाना इसलिए मुश्किल होता है क्योंकि टैलेंटेड एक्टर्स को काम मिलता ही नहीं है। बड़े एक्टर्स उनसे डरते हैं कि कहीं वे उनकी जगह न ले लें। नेपोटिज्म पर रोक लगनी चाहिए। लोग मर रहे हैं और ये बड़े लोग अब भी इसके प्रभाव को नहीं समझ रहे हैं। सरकार को ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।’

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *