मल्टीप्लेक्स में फ्री में फ़िल्में देखने के लिए हो जाइए तैयार, शुरू हुआ थियेटर्स की साफ सफाई का काम!

देश भर में तेजी से फैल रही कोरोना महामारी के चलते  14 मार्च से सिनेमाघरों को बंद करने का ऐलान कर दिया गया था। थिएटर्स में आखिरी रिलीज होने वाली हिंदी फिल्म इरफान खान की अंग्रेजी मीडियम थी जो 13 मार्च को ही रिलीज हुई थी। ढाई महीने के लॉक डाउन के बाद अनलॉक फेज वन शुरू हो चुका है, जिसके तहत कुछ रियायतें दी जा रही है और फेज़ 2 और फेज़ 3 में कई पब्लिक प्लेसिस को खोलने की बात भी सरकार की तरफ से कही गई है। ऐसे में माना जा रहा है थिएटर भी जल्द खुल सकते हैं।

15 जून से महाराष्ट्र सरकार ने टीवी और फिल्मों की शूटिंग शुरू करने की इजाज़त भी दे दी है, ऐसे में अब कई फिल्मों का बचा हुआ काम पूरा होगा और फिर फिल्म रिलीज के लिए तैयार होंगी। दरअसल खबरें हैं कि केंद्र सरकार के मंत्री के साथ कुछ चुने हुए थिएटर मालिकों की मीटिंग हुई है। इस ऑनलाइन बातचीत में जुलाई के महीने में फिर से सिनेमाघरों के खोलने पर सहमति भी बन गई है। हालांकि थिएटर मालिकों को ये भी स्पष्ट तरीके से कह दिया गया है कि वो मल्टीप्लेक्स में सोशल डिस्टेंसिंग और तमाम गाइडलाइंस को पूरी तरह फॉलो करें।

अब सवाल ये उठता है कि अगर थिएटर खुल जाते हैं तो क्या लोग थिएटर का रुख करेंगे? शायद ज्यादातर लोगों का जवाब होगा ‘ना’, तो फिर इससे कैसे निपटा जाएगा? कैसे ऑडियंस को सिनेमाघरों तक लाया जाएगा? तो ऐसे में थिएटर मालिक प्लान कर रहे हैं कि की लोगों को थिएटर तक लाने के लिए थिएटर खुलने के कुछ समय बाद तक फिल्मों को फ्री में दिखाया जाएगा। पुरानी सुपर हिट फिल्मों को थिएटर्स में लगाया जाएगा और उसके टिकट का पैसा ऑडियंस से नहीं लिया जाएगा। खबरें हैं की इस काम में थिएटर मालिकों की मदद के लिए यशराज कुछ पुरानी फिल्में सिनेमाघरों को दे रहे हैं, इसके बदले उन्हें कोई पैसा भी नहीं चाहिए।

अब देखना होगा की थिएटर खुलने के बाद की स्थिति क्या होती है। जब से लॉक डाउन हुआ है तभी से थिएटर मालिकों को भी खूब नुकसान झेलना पड़ रहा है। कई बड़ी फिल्में जो कि थिएटर्स में रिलीज होनी थी लॉक डाउन के कारण उनको ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज कर दिया गया, लेकिन अब थिएटर खुलने के फैसले से थिएटर मालिकों को नई आशा जगी है।

1 thought on “मल्टीप्लेक्स में फ्री में फ़िल्में देखने के लिए हो जाइए तैयार, शुरू हुआ थियेटर्स की साफ सफाई का काम!”

  1. Pahle bollywood mafia to khatam ho , fir dekhenge Sushant jaise aur kalakaro ki movies . Meri baat se jo sahmat hon wo comment kare yaha. Bollywood ki gandagi ki safai ho jay.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *