‘रसना गर्ल’ के नाम से फेमस तरुणी ने अपने 14 वें जन्मदिन वाले दिन ही प्लेन क्रैश में गंवा दी थी जान

तरुणी सचदेव ने मासूम और छोटी उम्र में करिश्मा कपूर के साथ रसना की एक टीवी एड में अपनी प्यारी सी मुस्कान और एक टैगलाइन ‘आई लव यू रसना’ से सभी का दिल जीत लिया था। रसना गर्ल के नाम से फेमस हुई तरुणी सचदेव ने बहुत ही कम उम्र में इस दुनिया को अलविदा कह दिया था। रसना की उस एक टीवी एड ने तरुणी की जिंदगी को नई दिशा दी थी। तरुणी सिनेमा के पर्दे के जरिये दर्शकों के दिलों पर राज करना चाहती थीं। लेकिन अफ़सोस! महज 14 साल की उम्र में तरुणी इस दुनिया को अलविदा कह गईं और अब तरुणी सिर्फ हमारी यादों में ही बसती हैं।

मुंबई में 14 मई 1998 को जन्मी तरुणी सचदेव के पिता हरेश सचदेव इंडस्ट्रियलिस्ट हैं, जबकि मां का नाम गीता सचदेव है। महज 5 साल की उम्र में तरुणी रसना की टीवी एड फिल्म से इस कदर फेमस हुईं कि वे उस समय की सबसे ज्यादा पैसा कमाने वाली चाइल्ड आर्टिस्ट बन गई थीं। तरुणी मुंबई के एक स्कूल में ही पढ़ाई कर रही थीं। तब तरुणी की मां गीता सचदेव मुंबई के इस्कॉन के राधा गोपीनाथ मंदिर की एक भक्त मंडली की सदस्य थीं और तरुणी भी मां के साथ मंदिर जाती थीं। वहां त्योहारों में नाटकों में हिस्सा लेती थीं। वहीं से किसी की नजर तरुणी के मासूम से चेहरे पर पड़ी और तरुणी को रसना की टीवी एड फिल्म मिली।

रसना की टीवी एड फिल्म के बाद तरुणी को कोलगेट, आईसीआईसीआई बैंक, रिलाइंस मोबाइल, एलजी, कॉफी बाइट, गोल्ड विनर, शक्ति मसाला जैसे प्रोडक्ट्स के एड फिल्म मिले। साथ ही शाहरुख खान के टीवी शो ‘क्या आप पांचवीं पास से तेज हैं?’ में भी तरुणी कंटेस्टेंट बनकर पहुंची थीं।

साल 2004 में तरुणी ने डायरेक्टर विनायन द्वारा डायरेक्ट की मलयालम फिल्म ‘वेल्लिनक्षत्रम’ से बड़े पर्दे पर डेब्यू किया। विनायन ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘मैंने तरुणी को अमिताभ बच्चन के साथ एक विज्ञापन में काम करते देखा था। विज्ञापन एजेंसी से उसका नंबर लिया और उन्हें कॉल किया। जब तरुणी फोन पर आई तो उसने मुझसे कहा- अंकल, मुझे फिल्मों में काम करना है’।

इसके अलावा तरुणी ने अमिताभ बच्चन के साथ फिल्म ‘पा’ में भी काम किया था। तरुणी फिल्म ‘पा’ में अमिताभ की स्कूल दोस्त के किरदार में नजर आई थीं।

14 मई 2012 को तरुणी का नेपाल के अग्नि एयर फाइट सीएसटी प्लेन क्रैश में निधन हो गया और वो हमेशा के लिए दुनिया छोड़कर चली गईं। उस समय तरुणी की मां गीता सचदेव भी तरुणी के साथ थीं और तरुणी के साथ ही उनकी भी मौत हो गई। दुखद संयोग है कि उसी दिन तरुणी का 14वां जन्मदिन था। तरुणी जब 11 मई को नेपाल ट्रिप के लिए निकल रही थी, तब उसने अपने सभी दोस्तों को गले लगाया था। लेकिन वह अक्सर ऐसा नहीं करती थीं। तरुणी ने दोस्तों से मजाक में कहा था, ‘मैं आप सब लोगों से आखिरी बार मिल रही हूं, क्योंकि अगर प्लेन क्रैश हो जाता है तो!

साल 2012 में वह सोमवार का दिन था जब पश्चिमी नेपाल में विमान क्रैश हो गया था। विमान में 16 भारतीय, 2 डेनमार्क के रहने वाले और पायलट क्रू के तीन लोग सवार थे। हादसे में 13 यात्रियों और पायलट क्रू के दो सदस्यों की मौ’त हो गई थी। तरुणी के अचानक दुनिया को छोड़ देने से कई लोगों को झटका लगा था। क्योंकि वे एक अच्छी एक्ट्रेस और मॉडल ही नहीं, बल्कि एक ब्राइट स्टूडेंट भी थीं। उसके जाने के बाद अमिताभ बच्चन और करिश्मा कपूर ने भी ट्वीट कर दुख जताया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page