सुब्रमण्यम स्वामी ने 26 अहम प्वॉइंट्स शेयर कर कहा- सुशांत सिंह राजपूत की मौ’त आत्मह’त्या नहीं बल्कि ह’त्या है!

सुशांत सिंह राजपूत मामले में सुशांत के पिता के के सिंह द्वारा रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बिहार के पटना में दर्ज कराई गई शिकायत के बाद नया मोड़ आ गया है। धीरे-धीरे सुशांत मामला राजनीतिक मुद्दा भी बनता जा रहा है। तमाम राजनेताओं ने आगे आकर इस मामले में अपने विचार व्यक्त किए हैं, ऐसे में  पूर्व केंद्रीय मंत्री सुब्रमण्यम स्वामी इस पूरे मामले पर बारीकी से नजर रखे हुए हैं। वह लगातार इस मामले में सीबीआई जांच की मांग भी कर रहे हैं। इसी बीच सुब्रमण्यम स्वामी के एक ट्वीट ने हलचल मचा दी है। दरअसल इस ट्वीट में सुब्रमण्यम स्वामी ने 26 प्वॉइंट्स रखे हैं जिनके द्वारा वो ये बता रहे हैं कि ये आत्मह’त्या नहीं बल्कि साफ तौर पर ह’त्या का मामला है।

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक चिट्ठी शेयर की है जिसमें उन्होंने 26 अहम प्वॉइंट्स के बारे में बात की है। उन्होंने सुशांत से जुड़े कुल 26 प्वॉइंट्स पर सभी का ध्यान केंद्रित किया है। इन  प्वॉइंट्स पर ध्यान देने पर इनमें से ज्यादातर प्वाइंट्स सुशांत की ह’त्या की थ्योरी की तरफ ही इशारा करते हैं। इन 26 प्वॉइंट्स में से सिर्फ 2 प्वॉइंट्स आत्मह’त्या जबकि 24 प्वॉइंट्स ह’त्या की तरफ इशारा करते हैं।

सुब्रमण्यम स्वामी ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि सुशांत के कमरे में एंटी डिप्रेशन ड्रग्स जो मिले हैं, वह हो सकता है किसी ने वहां पहले से स्थापित किए हों। सुब्रमण्यम स्वामी ने फं’दा बनाने के लिए इस्तेमाल किए गए कपड़े पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि फं’दा बनाने के लिए जिस कपड़े का इस्तेमाल हुआ वो काफी नीचे तक लटका हुआ था जिस के जरिए सु’साइड हो ही नहीं सकता। उनके मुताबिक सुशांत सिहं राजपूत की गर्दन पर मिले निशान बेल्ट जैसी चीज से लगे लग रहे हैं। ऐसा भी कहा गया है कि सुशांत 14 जून को सुबह के वक्त वीडियो गेम खेल रहे थे लिहाजा पॉजिटिव मूड में थे, लेकिन स्वामी को लगता है कि कोई शख्स जो डिप्रेशन से जूझ रहा हो वह ऐसा वीडियो गेम नहीं खेल सकता। सुब्रमण्यम स्वामी के मुताबिक सुशांत के कमरे की डुप्लीकेट चाबी गायब थी। सुशांत के कमरे से स्टूल जैसी कोई भी चीज नहीं मिली है जिसकी मदद से सु’साइड किया गया हो। आत्मह’त्या के बाद सु’साइड नोट नहीं मिला है जो सुब्रमण्यम स्वामी को खटक रहा है। आत्मह’त्या के बाद जिस तरह से एक शरीर की हालत हो जाती है सुशांत के शरीर की हालत वैसी नहीं थी। इस पर भी सुब्रमण्यम स्वामी ने सवाल खड़े किए हैं।

इनके अलावा सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा है कि 80 प्रतिशत मुंबई पुलिस चाहती हैं कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच सीबीआई को भेज दी जाए, लेकिन उद्धव मंत्रिमंडल ये तय करके बैठा है कि राज्य सीबीआई जांच की अनुमति नहीं देगा। हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट सीबीआई जांच का निर्देश दे सकते हैं।

सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने ट्वीट में आगे लिखा, ‘मैंने ऐसा तमिलनाडु में किया था, जब पुलिस के माध्यम से एक प्रमुख जाति ने अनुसूचित जाति के गांव में धावा बोल दिया था। मुख्यमंत्री ने इसका विरोध किया था।’ सोशल मीडिया पर सुब्रमण्यम स्वामी के ट्वीट वायरल हो रहे हैं। आपको बता दें कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित उनके घर में मिला था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *