सुशांत को यादगार ट्रिब्यूट देने के लिए फैन्स की मांग, लंदन के ‘मैडम तुसाद म्यूज़ियम’ में लगे उनका वैक्स स्टैचू

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के नि’धन के बाद उनके चाहने वाले उनके प्रति अपने प्यार और सम्मान को जाहिर कर रहे हैं। सुशांत को न्याय दिलवाने के लिए सोशल मीडिया पर जो जन-आंदोलन छेड़ा गया, वह इससे पहले शायद ही किसी सेलीब्रिटी के लिए किया गया हो। एक तरफ सुशांत के फैन्स की मांग पर सुशांत केस की जांच अब CBI के हाथों में आ गई है। अभी भी मामले की जांच चल रही है, इसी बीच अब सोशल मीडिया पर सुशांत के लाखों चाहने वाले मिलकर एक पीटीशन साइन कर एक नई और खास मांग रख रहे हैं।

अब सुशांत के फैन्स चाहते हैं कि अभिनेता का लंदन के ‘मैडम तुसाद म्यूजियम’ में वैक्स स्टैच्यू लगाया जाए। इसके लिए उनके फैन्स ने अपने चहेते अभिनेता को यादगार ट्रिब्यूट देने के लिए एक ऑनलाइन पिटीशन दायर कर मुहिम चलाई है और लंदन स्थित ‘मैडम तुसाद’ऑफिशियल से मांग की है, वह अपने प्रतिष्ठित म्यूज़िम में सुशांत सिंह राजपूत की याद में उनका मोम का पुतला लगाए जाने पर विचार करें। सुशांत के हज़ारों फैन्स अब तक इस पिटीशन को साइन भी कर चुके हैं और अन्य लोगों द्वारा भी साइन की प्रक्रिया जारी है। वहीं सुशांत के फैन्स की मांग पर सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने भी अपनी तरफ से सपोर्ट करते हुए इस पीटीशन को साइन किया है।

दरअसल हाल ही में सुशांत के करीबी दोस्त और टीवी सीरियल ‘पवित्र रिश्ता’ के निर्देशक कुशाल ज़ावेरी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक फैन का पोस्ट शेयर किया जिसमें उस फैन ने अभिनेता की याद में मोम का पुतला बनाए जाने की अपील की है। कुशाल ज़ावेरी ने भी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस पिटीशन को साझा करते हुए लोगों से इसको साइन करने की गुहार लगाई है। सुशांत के फैन ने अपनी पिटीशन में बताया है कि कैसे बेहद कम उम्र में सुशांत दुनिया छोड़कर चले गए, और कैसे उनका जाना सभी के दिलों में खालीपन छोड़ गया है।

खास बात यह है कि सुशांत के फैन की इस अपील पर म्यूज़िम की तरफ से भी जवाब आया है। जवाब में लिखा गया है “हम पुष्टि करते हैं कि हमने आपके ईमेल को नोट कर लिया है और सुशांत सिंह राजपूत का नाम हमारी अनुरोध सूची में जोड़ दिया गया है। मैडम तुसाद लंदन की टीम साल में एक बार बैठक करती है, यह तय करने के लिए अगले आकर्षण के तौर पर किसके पुतले को यहां जगह दी जाएगी। आपके अनुरोध के साथ, अन्य हजारों जो हम मेहमानों से प्राप्त करते हैं, पर चर्चा और विचार किया जाएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *