सुशांत केस को लेकर महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे ने की अपील – बिहार-महाराष्ट्र में विवा’द पैदा ना करें

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस धीरे-धीरे राजनीतिक रूप लेता जा रहा है। इस मामले की जांच अब बिहार और महाराष्ट्र दोनों राज्यों की पुलिस कर रही है। केस को लेकर राजनीतिक बयानबाज़ी भी तेज़ हो गई है। इस मामले पर जहां एक तरफ महाराष्ट्र सरकार की किरकिरी होने लगी है, तो वहीं मुंबई पुलिस की जांच पर सवाल उठाए जा रहे हैं। मुंबई पुलिस की तरफ से इस मामले में की गई जांच में लापरवाही के और बिहार पुलिस का सहयोग ना करने के भी आरोप लग रहे हैं। इन आरोपों के बीच अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे आगे आये हैं। उन्होंने कहा है कि इस मामले की निष्पक्ष जांच करने में हम सक्षम हैं।

उद्धव ठाकरे ने कहा है कि “सुशांत सिंह राजपूत केस में अगर किसी के पास कोई सबूत या जानकारी है तो वो इसे हमारे पास ला सकता है। हम इस मामले में चुप नहीं बैठेंगे। जो भी इस मामले में दोषी होगा उसे नहीं बख्शा जाएगा”। उद्धव ठाकरे ने कहा कि “इस मामले की आड़ में महाराष्ट्र और बिहार के बीच विवा’द पैदा करने की कोशिश न करें”। उद्धव ठाकरे का कहना है कि “मैं उन लोगों की निंदा करना चाहूंगा जो पुलिस की दक्षता पर सवाल उठा रहे हैं।”

हाल ही में विधान सभा में विपक्ष के नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी सुशांत सिंह राजपूत के मामले को सीबीआई को सौंपने की मांग की थी। जिस पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि “विपक्ष इंटरपोल या नमस्ते ट्रंप के फॉलोअर्स को भी जांच के लिए ला सकता है”।

देवेंद्र फडणवीस को जवाब देते हुए ठाकरे ने यह भी कहा कि “देवेंद्र फडणवीस ने पांच साल तक मुख्यमंत्री के रूप में काम करने के बावजूद मुंबई पुलिस की क्षमता पर संदेह किया है। उन्हें समझना चाहिए कि यह वही पुलिस है, जिसके साथ उन्होंने पांच साल काम किया है। यह वही पुलिस है जिसने कोरोना के साथ ल’ड़ाई के दौरान कई बलिदान दिए हैं।”

बिहार सरकार के एडवोकेट जनरल ललित किशोर ने आरोप लगाया है कि बिहार पुलिस की छानबीन में मुंबई पुलिस सहयोग नहीं कर रही है। ललित ने मुंबई पुलिस पर आ’रोप लगाते हुए कहा, ‘जब एक राज्य की पुलिस दूसरे राज्य में जांच करने जाती है तो संबंधित राज्य और उनके अधिकारी पूरा सहयोग देते हैं। लेकिन, इस केस में ऐसा नहीं हो रहा है।’

इस मामले में सुशांत के पिता केके सिंह ने बीते दिनों बिहार के पटना में रिया चक्रवर्ती के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी। उन्होंने रिया पर सुशांत को आत्मह’त्या के लिए उकसाने, पैसों को ट्रांसफर करने समेत कई गंभीर आ’रोप लगाए थे। इसके बाद रिया ने 31 जुलाई को शुक्रवार को वीडियो जारी करके इस पूरे विवाद पर अपनी चुप्पी तोड़ी है। वीडियो में रिया ने कहा कि मुझे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है और मुझे न्याय मिलेगा। सच की जीत होगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *