हेमा द्वारा ठुकराए जाने के बाद जिंदगी भर कुंवारा रहा ये एक्टर, हेमा के घर के बाहर गुजार दिए थे कई दिन!

अपने जमाने की सुपरहिट अभिनेत्री रह चुकी बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी का एक जमाने में बॉलीवुड पर राज चलता था। हेमा ने साल 1963 में तमिल फिल्म ‘इथू साथियम’ में सह-कलाकार की भूमिका निभाते हुए फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा। इसके बाद हेमा मालिनी ने 1968 में फिल्म ‘सपनों के सौदागर’ से बॉलीवुड में एंट्री ली। इसके बाद उन्होंने पीछे मुडकर नहीं देखा और आज पूरी दुनिया में उनका नाम बोलता है। हेमा के प्रति लोगों में दीवानगी आज भी कम नहीं हुई है। आज भी कई लोग हेमा के एक दीदार के लिए बेताब रहते हैं।

वहीं हम आपको एक हेमा से जुड़ा एक राज बताते हैं जो आपको शायद पता नहीं होगा। 70 के दशक के सुपरस्टार संजीव कुमार का दिल भी खूबसूरत हेमा मालिनी पर आ गया था। संजीव कुमार हेमा मालिनी से बहुत ज्यादा प्यार करते थे। इसे संजीव कुमार का दुर्भाग्य ही कहेंगे क्योंकि ये प्रेम एक तरफ़ा ही रहा। एक बार संजीव कुमार ने हिम्मत करके हेमा मालिनी के सामने अपने दिल की बात रख दी। हेमा मालिनी ने संजीव के प्रपोजल को तुरंत ठुकरा दिया। हेमा के इस तरह प्रपोजल ठुकरा देने से संजीव कुमार का दिल बुरी तरह टूट गया और इसी वजह से उन्होंने जिंदगी भर शादी नहीं की, वो कुंवारे ही रहे। यहां तक कहा जाता है कि उन्होंने कई दिन हेमा के घर के बाहर गुजार दिए। इसके बाद भी हेमा पर कोई असर नहीं हुआ।

संजीव की मौ’त के बाद हेमा ने एक कार्यक्रम में उनकी जमकर तारीफ की थी। तब कहा जाने लगा था कि हेमा को देर से ही सही संजीव का प्यार समझ आया लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी।

उधर हेमा मालिनी और धर्मेन्द्र दोनों के बीच प्यार बढ़ गया और उन्होंने शादी कर ली।

कहा तो ये भी जाता है कि ‘शोले’ फिल्म में वीरू का किरदार संजीव कुमार करना चाहते थे जबकि ठाकुर का किरदार धर्मेन्द्र निभाने वाले थे। हालाँकि बाद में जब फिल्म डायरेक्टर रमेश सिप्पी से धर्मेन्द्र को पता चला कि वीरू का किरदार हेमा मालिनी के किरदार बसंती से फिल्म में रोमांस करेगा तो उन्होंने अपना इरादा बदल लिया और ठाकुर के किरदार को छोड़ वीरू का किरदार किया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.