इन कारणों से ये 10 बॉलीवुड सितारे अवॉर्ड लेने से करते हैं परहेज, कुछ तो अवॉर्ड शो में शामिल भी नहीं होते

पुरस्कार समारोह न केवल सम्मान देने के लिए होते हैं बल्कि प्रतिभा को प्रोत्साहित करने के लिए एक सबसे अच्छा प्रयास भी हैं। बॉलीवुड इंडस्ट्री में हर साल कई फिल्में रिलीज होती हैं। जिनमें से बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली फिल्मों को और उन में काम करने वाले सितारों को अवॉर्ड शो में अवार्ड से नवाजा जाता है। और हर साल कई अवार्ड शोज होते हैं, जिनमें सितारों को उनके बेहतरीन अभिनय के लिए अवार्ड्स दिए जाते हैं, लेकिन बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में ऐसे सितारे भी हैं जो अवॉर्ड नही लेते हैं। वे पुरस्कारों में विश्वास नहीं करते हैं और इसमें शामिल नहीं होते हैं। इन सितारों ने इन सम्मानों को गंभीरता से लेते हुए अपने निजी सोच और कारणों के लिए राष्ट्रीय पुरस्कारों से लेकर फिल्मफेयर पुरस्कारों तक से इनकार कर दिया है। आईये जानते है उन सितारों के बारे में।

आमिर खान

बॉलीवुड के सबसे बड़े अभिनेताओं के से एक मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहे जान वाले अभिनेता आमिर खान अवॉर्ड्स शो में जाते भी नहीं और अवार्ड्स लेते भी नहीं हैं। आमिर खान केवल दो ही संस्थाओं से अवार्ड लेते हैं और वो हैं ‘दिनानाथ मंगेशकर अवॉर्ड’ और दूसरा है चेन्नई के ‘गोलापुडी अवॉर्ड्स’। आमिर के अनुसार जिस संस्था के लिए उनके मन में इज्जत नहीं उनसे अवार्ड लेने क्या मतलब है।

कंगना रनौत

बॉलीवुड की क्वीन कही जाने वाली अभिनेत्री कंगना रानौत ने कई बड़ी बड़ी हिट फिल्मे दी है लेकिन अभिनेत्री कंगना रनौत आजकल   अवार्ड शो में शामिल नहीं होती हैं। साल 2015 में कंगना रनौत फिल्म फेयर का अवार्ड भी लेने नहीं पहुंची थी। उनका मानना है कि उन्होंने पहले कई अवॉर्ड लिए लेकिन इनसे उनके करियर पर कोई फर्क नहीं पड़ा। इसीलिए कंगना के लिए दर्शकों का प्यार ज्यादा महत्व रखता है, अवॉर्ड्स नहीं।

सलमान खान

बॉलीवुड के सुल्तान कहे जान वाले अभिनेता सलमान खान भी अवॉर्ड लेने में विश्वास नही रखते हैं। सलमान खान तो सरकार द्वारा दिए जाने वाले अवॉर्ड लेने से भी मना कर चुके हैं। सलमान खान का मानना है कि उनके फैंस ही उनके लिए सबसे बड़े अवॉर्ड हैं।

अजय देवगन

बॉलीवुड के सिंघम सुपरस्टार अभिनेता अजय देवगन ने भी कई बड़ी बड़ी हिट फिल्में की हैं लेकिन अजय भी अवॉर्ड नही लेते हैं। अजय देवगन का मानना है कि इन अवॉर्ड्स शो का मकसद किसी टीवी सीरियल को हिट करने जैसा रहता है। इसमें तभी अवार्ड्स दिया जाते हैं जब आप इसमें में भाग लेते हैं।

जॉन अब्राहम

बॉलीवुड अभिनेता जॉन अब्राहम भी अवार्ड शोज में जाना पसंद नहीं करते हैं। जॉन का कहना है कि अवार्ड समारोह किसी सर्कस से कम नहीं होते, इसलिए ऐसे कार्यक्रमों को गंभीरता से नहीं लेते हैं।

अक्षय कुमार

सबसे लोकप्रिय और पसंदीदा अभिनेताओं में से एक अक्षय कुमार भी ‘नो अवार्ड’ की सूची का एक हिस्सा हैं, जिन्होंने कुछ समय पहले एक पुरस्कार प्राप्त किया था, लेकिन यह मानते हुए वापस कर दिया कि वह इसके लायक नहीं थे। तब से ‘खिलाड़ी कुमार’ ने खुद को इन पुरस्कारों से दूर रखने की घोषणा की।

परेश रावल

अभिनेता से राजनेता बने परेश रावल एक अन्य अनुभवी बॉलीवुड सेलिब्रिटी हैं, जो अवार्ड नाइट्स से दूर रहते हैं। हालांकि इस शानदार अभिनेता का कहना है कि कोई भी पुरस्कार किसी अभिनेता के प्रदर्शन की बराबरी नहीं कर सकता है।

नसीरुद्दीन शाह

80 के दशक में आक्रोश, चक्र, मासूम, स्पार्स और प्यार जैसी फिल्मों के लिए कुछ राष्ट्रीय और फिल्मफेयर अवार्ड की ट्रॉफी जीतने वाले दिग्गज अभिनेता नसीरुद्दीन शाह का मानना है कि इन पुरस्कारों ने अपनी विश्वसनीयता और मूल्य खो दिया है क्योंकि आजकल यह कलाकारों का मजाक बनाता है।

इमरान हाशमी

2003 में फिल्म ‘फुटपाथ’ से बॉलीवुड में एंट्री करने वाले अभिनेता इमरान हाशमी भी अवार्ड शोज में जाना पसंद नहीं करते। हालांकि कई बार उनका नाम अवार्ड के लिए नॉमिनेट किया जा चूका है, लेकिन इमरान आज तक कभी भी ऐसे फंक्शन में नहीं गए।

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी

बॉलीवुड के सबसे लोकप्रिय अभिनेताओं में से एक नवाजुद्दीन सिद्दीकी भी ‘नो अवार्ड्स प्लीज ’सूची में नया नाम हैं। गैर-पारंपरिक दिखावे वाले इस अभिनेता ने रईस, ह रा मखो र, गैं ग्स ऑफ वासेपुर, बजरंगी भाईजान और किक जैसी फिल्मों में अपनी छाप छोड़ी। अक्सर कहा जाता है कि वह पुरस्कारों के लिए नहीं है। उनका मानना है कि कोई भी पुरस्कार या पैसा दर्शकों की प्रशंसा से बड़ा नहीं हो सकता।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *