जैकी श्रॉफ ने बताया कभी चॉल में रहते थे, स्कूल फीस भरने के लिए मां बेचती थीं साड़ियां और बर्तन!

अपने फिल्मी करियर में करीब 250 फिल्मों में काम कर चुके बॉलीवुड एक्टर जैकी श्रॉफ आज किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। जैकी श्रॉफ ने बॉलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। 80 और 90 के दशक में जैकी ने कई हिट फिल्मों में काम किया है। भिड़ू नाम से मशहूर जग्गू दादा हमेशा से ही अपने दिलखुश मिजाज के लिए जाने जाते रहे हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि जैकी श्रॉफ ने बॉलीवुड में अपने करियर को ऊंचाई देने के लिए काफी संघर्षों का सामना किया है।

जैकी श्रॉफ ने अपना अनुभव शेयर करते हुए अपने जीवन के सफर के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि मैंने अपने जीवन के 33 साल चॉल में बिताए हैं। हम 30 लोग चॉल में रहते थे जिसमें केवल 7 घर थे और उनके बीच 3 बाथरूम थे।

मेरी मां मेरी स्कूल की फीस भरने के लिए बर्तन और साड़ियां बेचती थीं। हर इंसान के अंदर जादू होता है और हर कोई वो सब हासिल कर सकता है जिसकी वो चाहत रखता है। एक हीरो बनने के कई साल बाद तक भी मैं उस चॉल में रहा था। मुझे उस जगह से काफी ज्यादा लगाव हो गया था।

वाकई में उन्होंने आज ये मुकाम कैसे पाया ये सिर्फ वही जानते हैं। इतनी मेहनत के बाद वो आज यहां पहुंचे हैं। किसी ने सही ही कहा है कि अगर आपके अंदर कुछ कर गुजरने की चाह हो तो आप कुछ भी कर सकते हैं।

गरीबी और तंगहाली के दौर से ऊपर उठकर जैकी ने फिल्मों में अपनी जगह बनाई है। जैकी श्रॉफ ने 1982 में आई देव आनंद की फिल्म ‘स्वामी दादा’ से बॉलीवुड में कदम रखा, लेकिन बड़ा ब्रेक उन्हें सुभाष घई की फिल्म ‘हीरो’ से मिला था।

इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और सफलता की सीढ़ियों पर वो चढ़ते गए। अब वो बेटे टाइगर श्रॉफ और बेटी कृष्णा श्रॉफ के पापा। वाइफ आएशा श्रॉफ के साथ जैकी का परिवार पूरा है। वहीं टाइगर भी अब बॉलीवुड में अपनी पहचान बना चुके हैं और धमाकेदार फिल्मों में काम कर रहे हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *